Musafir Lyrics in Hindi - Aatish

Musafir Lyrics in Hindi:- Presenting the Lyrics of the Punjabi song 'Musafir' sung by Aatish and Cherry. The Lyrics of the song are penned by Ishandeep while Cheetah has given the music of the song. The song is released under the label White Hill Music.

Musafir Lyrics in Hindi - Aatish

Musafir Lyrics in Hindi:-

कल राहीं जांदे जांदे 
खुद नू मिल आया 
मैं फटे पुराने 
हिजरां नू वी सिल आया 

उंझ अंदरों मैनू दर्द वी 
सजदा करदे ने 
बड़ी साफ़ नीयत दे नाड़  
मेरे नाल लड़दे ने 

के शर्तों हो गइयाँ ने 
हासेया दे नाल 
ओ मेरे मुख ते रैणें लई 
मन गए मन गए 

दिल दियां मनदे मनदे 
आशिक बनदे बनदे 
हम तो गमों के मुसाफिर बन गए 

दिल दियां मनदे मनदे 
आशिक बनदे बनदे 
हम तो गमों के मुसाफिर बन गए 

खोई क्यूँ ऐसे मुझसे 
पूछना चाहूँ तुझसे 
फिर सोचूँ किस हक से 

मुझ में कोई खामी होगी 
या बड़ी सामी होगी 
जिसकी वो हुई हक से 

मैनू सुपना वी आया सी कल रात 
मेरे दित्ते सी कंगन जो 
खन गए खन गए 

दिल दियां मनदे मनदे 
आशिक बनदे बनदे 
हम तो गमों के मुसाफिर बन गए 

दिल दियां मनदे मनदे 
आशिक बनदे बनदे 
हम तो गमों के मुसाफिर बन गए 

हसदे सी लगियाँ अखियाँ 
हसयाँ विच दिल तुड़ाए 
खुद नू दिलासे देण लई 
दोष सजणा ते लाए 

रांझण नू पौणा चाया 
पाके अस्सी लै गवाया 
ईशान पता लगया ना कद 
ज़िन्दगी विच जहर मिलाया 

हो सूरज छिपेया 
हुण मेरा ऐ फिलहाल 
नाले संभले ना साथों 
चन गए चन गए 

दिल दियां मनदे मनदे 
आशिक बनदे बनदे 
हम तो गमों के मुसाफिर बन गए 

दिल दियां मनदे मनदे 
आशिक बनदे बनदे 
हम तो गमों के मुसाफिर बन गए 

भूले ना लम्हें मैनू 
भूली ना बातें तेरी 
भूल जाऊँ बस खुद नू 

कठे कोई जोड़े देखूँ 
ओहना विच खुद नू देखूँ 
भूल जाऊँ सुध बुध नू 

सुणया ऐ ओहदा हुण 
हो गया ऐ निकाह 
मैनू दास्स गए जो ओहदी 
जन गए जन गए 

दिल दियां मनदे मनदे 
आशिक बनदे बनदे 
हम तो गमों के मुसाफिर बन गए 

दिल दियां मनदे मनदे 
आशिक बनदे बनदे 
हम तो गमों के मुसाफिर बन गए 

Written by: Ishandeep

Musafir Song Credits:-

Song Title-

Musafir

Singer-

Aatish, Cherry

Lyrics-

Ishandeep

Music-

Cheetah

Language-

Punjabi

Music Label-

White Hill Music


Musafir Music Video:-